Header Ads

जानिये सरकारी दारु या शराब का ठेका कैसे ले ? Daru ya Sharab ka theka kaise lete h.


दोस्तों आज हम यहाँ आप को जानकारी देने जा रहे हे की सरकारी शराब या  दारू का ठेका कैसे खोलो जाता है भारत में और इस Daru ka theka  खोलने के लिये किन किन डॉक्यूमेंट या किस पेपर वर्क की जरुरत रहती हे. तो दोस्तों आज हम यहाँ आप को Sharab ka theka लेने के लिये इसकी फीस कितनी होती हे कितनी जगह की जरूरत रहती हे और कितना टाइम लगता हे यह सब हम यहाँ जानेंगे.

दोस्तों वेसे तो शराब का बिज़नेस भारत में गैर क़ानूनी है लेकिन इस बिज़नेस को स्टार्ट करने के लिये भारत सरकार बनाये गये नियमो के अनुसार Daru ka theka  का बिजनेस हम कर सकते है. इसके लिये हमें जिस राज्य में Sharab ka theka खोलना होता है वह की राज्य सरकार से हमें लाइसेंस लेना  होता है. और और एक बार ठेके का आवंटन होने के बाद कुछ अन्य कागजी करवाई करने की जरुरत पड़ती है जिसको पूरा करने के बाद आप अपना शराब का बिज़नेस शुरू कर सकते है।


सरकारी शराब का ठेका कैसे ले सकते है ( Sarkari Daru ya Sharab ka theka kaise le sakte hai  ):- 

Sarkari daru का बिजनेस बढ़िया और अच्छे मुनाफे वाला बिजनेस माना जाता है. क्योंकी इसकी डिमांड साल भर बनी रहने के कारण इसमें नुकसान होने के चांस कम होते हे. इसमें अगर आपको daru या sharab का theka सही लोकेशन पर मिल जाये तो तब आप आसानी से लाखो रूपये के मुनाफे की कमाई सकते है. दोस्तों यह बिजनेस के लिए आपके पास 2 से 3 का अनुभव होना बहुत ही जरुरी है. में यहाँ आप को बता दू की इस बिजनेस में अनुभव के साथ साथ आप के पास अच्छा खासा पैसा होना बहुत जरुरी है क्योंकी Daru ka theka या तो आप को लोटरी सिस्टम से मिलेगा या फिर इसकी बोली लगा कर यह निर्भर करेगा की उस राज्य कानून और कायदे क्या है.

दोस्तों यहाँ में आप को Daru ya Sharab के ठेके कितने तरीके के होते ये ये बता देता हु.


शराब या दारू की दुकान के प्रकार (Daru ya Sharab ki shop ke types):-

Daru ya Sharab का theka  लेने से पहले आपको यह जानना आवश्यक है. बिना लाइसेंस के हम शराब की दुकान नहीं खोल सकते हैं. और यदि हम ऐसा करते हैं. तो यह कानूनन अपराध की श्रेणी में गिना जाता है. इसके लिये हमें गिरफ्तार किया जा सकता हे NDPS एक्ट के तहत और यह गेर जमानती धारा के अंदर भी हो सकता है.

में यहाँ पर आप को छोटी सी एक जानकारी और शेयर कर देता हु कि दारू या शराब अलग-अलग कंपनियां द्वारा बनाई जाती हे. इसमें देसी शराब (Desi sharab) , अंग्रेजी शराब(angrezi sharab) के अलग अलग टाइप के ब्रांड होते हैं. 

तो दोस्तों आज कल के दारू या liquor बिजनेस को सरकार ने इसे चार केटेगरी में दिखाया है|

1. अंग्रेजी शराब का ठेका (Angrezi sharab ki shop)

2. देसी शराब का ठेका (Desi  sharab ki shop)

3. मॉडल शॉप (Modal shop)

4. ऑनलाइन डिलेवरी


1. अंग्रेजी शराब का ठेका :- (Angrezi daru ka theka)

राज्य सरकार द्वारा की तरफ से चयनित स्थानों पर अंग्रेजी शराब बिजनेसमैन को बेचने और खरीदने की अनुमति प्रदान की जाती है.  उसके बाद ही कोई भी बिजनेसमेन उस जगह पर अपने daru की बिक्री कर सकता है. Angrezi daru ke theke के लाइसेंस को प्राप्त करके आप बिलकुल आसानी से अंग्रेजी और देसी शराब को बेच और खरीद सकते हे. इस License में आप देसी और अंग्रेजी दोनों की बिक्री कर सकते है.

2. देसी शराब की दुकान :- (Desi  daru ka theka)

Desi  daru ka theka लेने के लिये आप सरकार के द्वारा चयनित स्थान पर केवल देसी शराब की बिक्री करने की अनुमति दी जाती है. इसमें बिजनेस करने वाले को केवल Desi  daru बेचने के लिए लाइसेंस दिया जाता है. और इस लाइसेंस को प्राप्त करके बिजनेसमैन Desi  daru को खरीद और बेच सकता है.

3. मॉडल शॉप :- (Modal shop)

इस प्रकार के लाइसेंस को बड़े-बड़े शहरों में बहुत ही गिने चुने मॉडल शॉप के लिए जारी किया जाता है. जिन्हें हम Wine cafe , PUB , Liquor Shop And BAR , आदि के नामो से जानते. इसमें बिजनेसमैन अपने उपभोक्ताओं को अपनी BAR या cafe में बैठाकर उनकी पसंदीदा दारू और खाने की चीजो को सर्व करता है. और यह सब कुछ प्रोफेशनल तरीके से किया जाता है और मदिरा पीने वाले व्यक्ति भी ऐसे shop पर जाकर अपनी पसंदीदा daru या sharab को खरीद कर वहीं पर पी सकते हैं.

इसके अलावा यहाँ सभी तरह के खाने की सुविधाये होती है.

4. ऑनलाइन डिलेवरी:-

यह बिजनेस किसी किसी राज्य की कुछ सिटी में लागु होता है. उसमे भी काफी सारे रूल्स और रेगुलेशन है. अभी देखा जाये तो दिल्ली इसका ताजा उधाहरण है. दिल्ली में अब ऑनलाइन शराब मंगवाई जा सकती हे.

दोस्तों दारू के ठेके लिये जरुरी हे की लोकेशन बढ़िया होनी चाहिये क्युकी सरकारे इसमें ठेकेदार को मंथली दारू बेचने का टारगेट दिया जाता हे. टारगेट पूरा नहीं करने पर भारी भरकम जुर्माना लगाया जाता हे. इसलिये daru के ठेके का चुनाव एकदम सही होना चाहिये.


शराब की दुकान को खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज:-  (Documents required for liquor license)

Daru ya Sharab ka theka  या shop को खोलने के लिए लाइसेंस को प्राप्त करने की पहले हमें आवेदन करना होगा. और इसके लिए हमें कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी. बिना डॉक्यूमेंट आप Daru ya Sharab ka theke का लाइसेंस ले सकते. चलिए जानते हैं, कि शराब के license को प्राप्त करने के लिए आपको कौन-कौन से डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी.

1. आवेदन करता का पैन कार्ड (Pan Card)

2. आवेंदन कर्ता का आधार कार्ड  (Aadhar Card)

3. डिजिटल सिगनेचर सर्टिफिकेट (ऑनलाइन आवेदन करने के लिये) (Digital Signature)

4. हैसियत प्रमाण पत्र

5. चरित्र प्रमाण पत्र  (Character Certificate)

6. इनकम टैक्स रिटर्न  (Income Tax Return)

7. दो पासपोर्ट साइज फोटो (Passport  size photo )


दिल्ली सरकार द्वारा अब वेबसाइट और ऐप के जरिए शराब की होम डिलीवरी को मंजूरी दे दी है. शराब के लिए अब आप अपने मोबाइल ऐप या वेबसाइट के जरिए daru की बोतल अपने घर पर मंगवा सकते है. 

इसके लिये दिल्ली सरकार में अपने  आबकारी नियम में बदलाव किया है

क्या कहता दिल्ली सरकार का आबकारी शराब की होम डिलीवरी पर:-

इस आबकारी (संशोधन) नियम, 2021 के अनुसार एल-13 license धारकों को लोगों के घर तक शराब पहुंचाने की अनुमति दी गई है. दिल्ली सरकार की ओर से जारी नोटीफिकेशन में कहा गया है कि लाइसेंस धारक केवल मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेबसाइट के जरिये ठेकेदार अपनी दुकानों के शराब की डिलीवरी घरो में कर सकेंगे. सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक होम डिलीवरी की सुविधा है. इसमें अतिरिक्त शुल्क लेकर शराब की होम डिलीवरी की जाती है.

Note:- गुजरात भारत का पहला राज्य था जिसने अपने यहाँ दारू की खरीद फरोक्त पर पूरी तरह से पाबन्दी लगा रखी है. 

संवैधानिक चेतावनी :-

बिना अनुमति के शराब का सेवन करना और शराब की बिक्री करना गेर क़ानूनी है और हम इस लेख के माध्यम से किसी भी व्यक्ति को शराब की दुकान को खोलने का और उसे बेचने की सलाह या परामर्श नहीं देते हैं. शराब का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है.


No comments:

Powered by Blogger.